1. 8 अगस्तको प्रदेश के मुखिया करेंगे महात्मा गांधी की प्रासंगिकता विषय पर वेबिनार के आयोजन काशुभारम्भ
  2. प्रदेश के मुखियाने दिए निर्देश वन अधिकार दावों पर करे पुनर्विचार
  3. रायपुर स्थित सभी विभागाध्यक्ष और कार्यालय खुलेंगे 7 अगस्त से लोक डाउन हुआ ख़त्म
  4. स्वास्थ्य विभाग ने दो अगस्त की स्तिथि के अनुसार रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन वाले क्षेत्रों की अधिसूचना की जारी
  5. निजी अस्पतालों में करा सकेंगे कोरोना की जांच इस सम्बन्ध में स्वास्थ्य विभाग ने लिखा पत्र
  6. छत्तीसगढ़ के राम-मार्ग पर आएगी फूलो की मंद मंद खुसबू खुशबू भरा होगा राम मार्ग
  7. कोरोना संक्रमण की वजह से विश्व आदिवासी दिवस पर जिलों में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आयोजित किए जाएंगे कार्यक्रम
  8. प्रदेश के मुखिया स्वतंत्रता दिवस पर राजधानी में ही फहराएंगे तिरंगा
  9. प्रदेश के मुखिया का गोधन न्याय योजना के लिए जताया आभार
  1. 8 अगस्तको प्रदेश के मुखिया करेंगे महात्मा गांधी की प्रासंगिकता विषय पर वेबिनार के आयोजन काशुभारम्भ
  2. प्रदेश के मुखियाने दिए निर्देश वन अधिकार दावों पर करे पुनर्विचार
  3. रायपुर स्थित सभी विभागाध्यक्ष और कार्यालय खुलेंगे 7 अगस्त से लोक डाउन हुआ ख़त्म
  4. स्वास्थ्य विभाग ने दो अगस्त की स्तिथि के अनुसार रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन वाले क्षेत्रों की अधिसूचना की जारी
  5. निजी अस्पतालों में करा सकेंगे कोरोना की जांच इस सम्बन्ध में स्वास्थ्य विभाग ने लिखा पत्र
  6. छत्तीसगढ़ के राम-मार्ग पर आएगी फूलो की मंद मंद खुसबू खुशबू भरा होगा राम मार्ग
  7. कोरोना संक्रमण की वजह से विश्व आदिवासी दिवस पर जिलों में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आयोजित किए जाएंगे कार्यक्रम
  8. प्रदेश के मुखिया स्वतंत्रता दिवस पर राजधानी में ही फहराएंगे तिरंगा
  9. प्रदेश के मुखिया का गोधन न्याय योजना के लिए जताया आभार

 

रायपुर: मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल से  यहां उनके निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ प्रदेश साहू संघ के प्रतिनिधिमंडल ने सौजन्य मुलाकात की। इस अवसर पर साहू समाज ने गौवंश के संरक्षण एवं संवर्धन के लिए सुराजी योजना के तहत गांव-गांव में गौठानों के निर्माण तथा गोधन न्याय योजना के माध्यम से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री का सम्मान करते हुए उन्हें अभिनंदन पत्र तथा गाय और बछड़े की एक मूर्ति भेंट की। मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने प्रतिनिधिमंडल से चर्चा के दौरान कहा कि गौवंश के धार्मिक महत्त्व के साथ ही अब हमें पशुधन के आर्थिक महत्व को भी समझने की जरूरत है।

गोधन न्याय योजना के अंतर्गत गोबर संग्रहण कर वर्मी कम्पोस्ट खाद तैयार की जाएगी। इससे किसानों की रासायनिक खाद पर निर्भरता कम होगी और इसके उपयोग से जमीन की उर्वरा क्षमता बढ़ेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरेली त्योहार से इस बार गोबर क्रय करने की शुरूआत होगी। उन्होंने सभी पशुपालकों एवं किसानों से इस योजना में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने का आव्हान किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना से हमने किसानों को आर्थिक सम्बल प्रदान किया। उन्होंने कहा कि राज्य की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए किसानों का सक्षम होना जरूरी है। हमारी यह कोशिश है कि छत्तीसगढ़ के किसान, मजदूर और सभी वर्ग के लोग आर्थिक रूप से सक्षम बनें। इनकों ध्यान में रखकर ही राज्य सरकार आवश्यक कदम उठा रही है। इस अवसर पर सर्वश्री अर्जुन हिरवानी, थानेश्वर साहू, शांतनु साहू, महेश साहू, तुलसी दास साहू सहित छत्तीसगढ़ प्रदेश साहू संघ के अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।